जयपुर में प्रोजेक्ट उत्कर्ष: 100 स्कूलों में ‘स्मार्ट क्लास


प्रदेश की राजधानी जयपुर के सौ सरकारी स्कूलों में स्टूडेंट्स स्मार्ट क्लास में पढ़ाई करेंगे। प्रोजेक्ट उत्कर्ष  के तहत शुक्रवार को इसका शुभारम्भ किया।

यह प्रोजेक्ट सरकारी विद्यालयों में सूचना प्रौद्योगिकी एवं क्विज आधारित अधिगमन प्रणाली द्वारा शिक्षा में गुणात्मक परिवर्तन लाने के लिए जिला प्रशासन के मार्गदर्शन में मोइनी फाउंडेशन जयपुर व शिक्षा विभाग जयपुर द्वारा तथा एचडीएफसी बैंक के सहयोग से संचालित किया जा रहा है।
जयपुर जिले में प्रथम चरण में जयपुर पूर्व, जयपुर पश्चिम, झोटवाड़ा, शाहपुरा, आमेर, गोविंदगढ़ जालसु ब्लाॅक के 100 आईसीटी सुविधायुक्त सरकारी विद्यालयों में ‘प्रोजेक्ट उत्कर्ष‘ शुरू किया गया है।

जिला शिक्षा अधिकारी महेश गुप्ता ने राजकीय सिंधी बालिका उच्च माद्यमिक विद्यालय जवाहर नगर जयपुर में इसकी शुरूआत की। उन्होंने विद्यालय में प्रोजेक्ट उत्कर्ष के अंतर्गत संचालित स्मार्ट क्लास में कक्षा 9वीं की छात्राओं से इस प्रोजेक्ट के बारे में जानकारी ली तथा सवाल जवाब किए। छात्र-छात्राओं ने बताया कि हमे स्मार्ट क्लास में पढ़ना अच्छा लगता हैं, हमारी ई मेल आईडी से लॉगिन कर छोटे छोटे प्रश्नों से पढ़ना व क्विज द्वारा पाठ को समझने में आसानी होती हैं। इसमें दिये गए विज्ञान के प्रेक्टिकल से मॉडल तैयार करते हैं, ऑनलाइन व ऑफलाइन अपना होमवर्क व टेस्ट देकर अपनी तैयारी की जांच कर लेते हैं।

इस अवसर पर एडीपीसी रमसा बहादुर सिंह, प्रोग्राम अधिकारी सुभाष माहेश्वरी, मोइनी फाउंडेशन के संस्थापक अरविंद थानवी, निदेशक विजय व्यास, प्रोग्राम अधिकारी, एचडीएफसी बैंक से ब्रांच मैनेजर राम के. दत्ता एवं राहुल गुप्ता तथा विद्यालय प्रधानाचार्या मधु कालानी एवं 100 विद्यालयों के संस्था प्रधान उपस्थित रहे।

उल्लेखनीय है कि राज्य के जयपुर सहित 9 जिलों झालावाड़,बाराँ,जोधपुर, उदयपुर, सवाईमाधोपुर, हनुमानगढ़, पाली व अजमेर की 1400 से ज्यादा विद्यालयों में प्रोजेक्ट उत्कर्ष शुरू किया गया है। इस प्रोजेक्ट में करीब एक लाख लोग लाभन्वित हो रहे है। 
Share on Google Plus

About NGO DARPAN

0 comments:

Post a Comment